बैंकिंग प्रणाली को मजबूत बनाने के लिए उठाए जा रहे कई कदम: RBI

By - Jun 12, 2018 09:08 AM
बैंकिंग प्रणाली को मजबूत बनाने के लिए उठाए जा रहे कई कदम: RBI

 भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर उर्जित पटेल आज वीरप्पा मोइली की अध्यक्षता वाले संसदीय समिति के सामने पेश हुए। समिति के सामने उन्होंने कहा कि हम बैंकिंग प्रणाली को मजबूत करने के लिए कई कदम उठा रहे हैं। एनपीए संकट से निकलने की हर संभव कोशिश की जा रही है।
पीएनबी घोटाले के बारे में सवाल
समिति के सदस्यों ने पटेल से पीएनबी घोटाले के बारे में भी सवाल पूछे। समिति ने पूछा कि हीरा कारोबारी नीरव मोदी और मेहुल चोकसी द्वारा किए गए करोड़ों के घोटाले के बारे में कई वर्षों तक क्यों पता नहीं चल पाया। कांग्रेस नेता वीरप्पा मोइली की अध्यक्षता वाली इस समिति में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी सदस्य हैं। हालांकि कल समिति के सदस्य व सांसद दिनेश त्रिवेदी ने कहा, ‘नोटबंदी (500 और 1000 रुपए के पुराने नोटों के चलन पर रोक) के बाद लंबा समय गुजर गया है और केंद्रीय बैंक ने यह नहीं बताया कि इससे कितनी मुद्रा प्रणाली में लौटी।’
नोटबंदी के बाद बनाई गई संसदीय समिति 
बता दें कि 2016 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी की घोषणा की थी। उन्होंने 500 और 1000 रुपए के पुराने नोट बंद किए जाने की घोषणा की थी। नोटबंदी के बाद ही यह संसदीय समिति बनाई गई थी। यह पहली बार नहीं है, जब उर्जित पटेल संसदीय समित‍ि के सामने पेश होंगे। इससे पहले भी उन्हें कई बार समिति के तीखे सवालों का सामना करना पड़ा है।