लोकभवन में सोशल मीडिया हब का उद्‌घाटन किया,सीएम योगी ने

By - Jun 13, 2018 07:01 AM
लोकभवन में सोशल मीडिया हब का उद्‌घाटन किया,सीएम योगी ने

सीएम योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को लोकभवन में सोशल मीडिया हब का उद्‌घाटन किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि यह सरकार की जिम्मेदारी है कि वह जनता को बताए कि वह उनके लिए क्या काम कर रही है। सही तथ्य जनता के सामने आएंगे तो वह सरकार को सहयोग करेगी। इसके अलावा लोगों को जानकारी होगी तो वे अपने हक के लिए लड़ेंगे और भ्रष्टाचार में कमी आएगी। सीएम ने कहा कि सोशल मीडिया दो-धारी तलवार है। यह अच्छी और बुरी दोनों तरह की बात सामने रखता है। यह भी तथ्य है कि सोशल मीडिया पर आने वाली चीजों को हर आदमी अपनी तरह से देखता है। हालांकि यह हमारी जिम्मेदारी है कि हम सही तथ्य जनता के सामने रखें। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि अक्सर होता है कि सरकार काम करती है, लेकिन लोगों को इसकी जानकारी नहीं होती। सीएम ने इसपर एक वाक्या भी साझा किया। उन्होंने कहा कि हाल में ग्राम स्वराज अभियान के तहत मैं बुंदेलखंड के एक गांव में गया था। वहां लोगों से पूछा कि क्या सरकारी योजनाओं का लाभ मिल रहा है? लोगों ने कहा-नहीं। यह जवाब उन 211 परिवारों का था, जिन्हें प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ मिला था। बेहतर होगा कि लोगों को जानकारी दी जाए। इससे उन्हें उनका हक पता चलेगा। वह उसे मांगेंगे। भारत में सबसे ज्यादा स्मार्टफोन धारक हैं। इस लिहाज से सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म पर सरकार ज्यादा लोगों को जानकारी दे सकती है। 
सीएम ने कहा कि सरकार अच्छा काम कर रही है। उन्होंने कहा, 'जब हम सरकार में आए थे तो ग्रामीण क्षेत्र में प्रधानमंत्री आवास में यूपी 17वें नंबर पर था। अब पहले नंबर पर है। नगरीय क्षेत्र में भी पहले नंबर पर है। गेहूं खरीद में हम पहले नंबर पर रहे। धान खरीद में दूसरे नंबर पर। आलू किसानों को सबसे ज्यादा राहत हमने दी। कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा कि सोशल मीडिया से कम समय में बात ज्यादा लोगों तक पहुंचा सकता है। इंटरनेट प्लैटफॉर्म का इस्तेमाल हर रोज 140 करोड़ लोग करते हैं। यह ओपेन प्लेटफॉर्म है और इसपर शिकायतों के अलावा सुझाव भी आते हैं। हालांकि इसकी विश्वसनीयता बनाए रखनी होगी। वहीं ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा कि विपक्ष हताशा में नकरात्मक चीजें फैलाता है। हमें केवल सही बात अपनी जनता के सामने रखनी होती हैं।