बाथरूम में नहा रही डॉक्टर का बनाया अश्लील MMS

By - May 14, 2018 02:29 PM
 बाथरूम में नहा रही डॉक्टर का बनाया अश्लील MMS

नई दिल्ली: अपने एक दोस्त के साथ महिपालपुर के एक होटल में गई मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज की रेजिडेंट डॉक्टर का बाथरूम में नहाते हुए वीडियो बनाया जा रहा था। पर, इसी दौरान डॉक्टर ने यह देख लिया और अपने साथी की मदद से तत्काल इसकी सूचना होटल प्रबंधन व पुलिस को दी। जांच करने पर पाया कि डॉक्टर के कमरे से लगे कमरे के बाथरूम से यह वीडियो बनाया जा रहा था, जिसमें एक जोड़ा था। 
भेजने के साथ ही होटल कर्मचारियों से पूछताछ कर रही है। 
महिला डॉक्टर मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज में  पीजी की छात्रा भी है। वह अपने एक दोस्त के साथ 6 मई को महिपालपुर स्थित होटल ले माउंट गई थी। जहां उन्होंने कमरा बुक किया था। उन्हें कमरा नंबर 302 दिया गया था। कमरे में पहुंचने के बाद महिला डॉक्टर नहाने के लिए बाथरूम में गई। नहाते हुए बाथरूम के वेंटिलेटर के पास कुछ हलचल सी महसूस हुई। संदेह होने पर जब उसने ध्यान से देखा तो वहां से उसे काले रंग के मोबाइल का कैमरा नजर आया, जिससे कोई उसका नहाते हुए वीडियो बना रहा था। यह देखते ही डॉक्टर बाथरूम से बाहर निकल गई और इसकी जानकारी दोस्त को दी। दोस्त तुरंत बाथरूम में घुसा और जब आवाज लगाई तो मोबाइल हट गया। इस दौरान जब महिला डॉक्टर के दोस्त ने उसे गालियां देकर आवाज लगाई तो उस ओर से भी कोई पुरुष भी गालियां देने लगा। इसके बाद दोनों ने इसकी सूचना होटल के रिसेप्शन पर मौजूद महिला कर्मचारी और पुलिस को भी दे दी। उन लोगों ने उस दौरान मौजूद होटल के सभी कर्मचारियों के मोबाइल फोन की भी जांच की पर, किसी के मोबाइल में कुछ भी नहीं मिला।
मौके पर पहुंची पुलिस के साथ मिलकर जब उस वेंटिलेटर की जांच की तो पता चला कि वह बगल के कमरा नंबर 303 के बाथरूम से लगा है। जब 303 नंबर कमरा खुलवाया गया तो उसमें सुधाकर शुक्ला नामक व्यक्ति मिला। उसके साथ एक महिला भी थी। जब उसकी जांच की गई तो उसके पास से वैसा ही काले रंग का मोबाइल मिला, जैसा महिला डॉक्टर ने वेंटिलेटर में देखा था। कमरे के बाथरूम की जांच में पाया कि जिस वेंटिलेटर से वीडियो बनाया जा रहा था, वह उसी बाथरूम से लगा है। पुलिस ने उस मोबाइल की जांच की, पर उसमें कोई भी संदेहजनक वीडियो या फोटो नहीं मिले। इसके बाद पुलिस ने उसके मोबाइल को जब्त कर उसे फॉरेंसिक जांच के लिए भेज दिया है ताकि यदि उस मोबाइल से वीडियो लिए जाने के बारे में पता चल सके। हालांकि पुलिस ने उसे अभी गिरफ्तार नहीं किया है। अधिकारी का कहना है कि अगर फॉरेंसिक जांच में यह रिपोर्ट आती है कि उस मोबाइल से वीडियो लिया गया था, तो उसे गिरफ्तार किया जाएगा।