FIFA World Cup: इंग्लैंड को करना होगा कोलंबिया की असल चुनौती का सामना

By - Jul 03, 2018 08:31 AM
FIFA World Cup: इंग्लैंड को करना होगा कोलंबिया की असल चुनौती का सामना

रेपिनोः गैरेथ साउथगेट की कप्तानी वाली युवा इंग्लैंड की टीम का फीफा विश्वकप-2018 में अभी तक का सफर काफी सहज रहा है जहां उसने बड़ी जीत के साथ अंतिम-16 में जगह बनाई है, लेकिन उसे अब कोलंबिया के खिलाफ टूर्नामेंट में असल चुनौती का सामना करना होगा।  ग्रुप चरण में इंग्लैंड ने ट्यूनीशिया के खिलाफ 1-2 और पनामा के खिलाफ फिर 6-1 से जीत अपने नाम की लेकिन बेल्जियम से उसे 0-1 से हार झेलनी पड़ी थी। 
इंग्लैंड ने हालांकि दो आसान जीतों के साथ अंतिम-16 में जगह पक्की की लेकिन अब उसे दक्षिण अमेरिकी टीम की असल चुनौती झेलनी होगी जिसकी टीम में कई प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं और चार वर्ष पहले ब्राजील में वह क्वार्टरफाइनल तक पहुंची थी जबकि इंग्लैंड ने 12 वर्षाें से नॉकआउट चरण में नहीं जीत पायी है।  कोलंबिया के लिये फिलहाल सिरदर्द जेम्स रोड्रिग्ज को लेकर है जिनके पैर में सूजन है। ब्राजील विश्वकप में सर्वाधिक छह गोल कर गोल्डन बूट विजेता रहे रोड्रिग्का की फिटनेस फिलहाल साथ नहीं है। वहीं विंगर जुआन कुआड्राडो ने भी चेल्सी के लिये निराशाजनक प्रदर्शन किया लेकिन जुवेंटस के लिये सिरी ए में उनका प्रदर्शन जोस पेकरमैन की कोलंबियाई टीम के लिये अहम होगा। कोलंबियाई मिडफील्डर कार्लाेस सांचेका ने भी इंग्लैंड के खिलाफ मुश्किल चुनौती की उम्मीद जताई है।  इंग्लैंड के राइट बैक किरान ट्रिपियर ने शुरूआती दो मैचों में काफी प्रभावित किया है और वह भी कोलंबिया टीम के खिलाड़यिों की चुनौती से अवगत हैं। 
ट्रिपियर ने हालांकि भरोसा जताया है कि इंग्लिश टीम अपनी लय को बरकरार रखेगी और उम्मीद है कि ट्यूनीशिया के खिलाफ मैच में उतारी गयी अंतिम एकादश को ही प्री क्वार्टरफाइनल के अहम मैच में उतारा जाएगा। ऐसे में डेले अली की वापसी हो सकती है जो पांच गोल रने वाले स्ट्राइकर हैरी केन के सहायक की भूमिका में होंगे जबकि रूबेन लोफटस चीक को बाहर बैठना पड़ सकता है।