फीफा विश्व कप 2018 : रूस और सऊदी अरब में होगा शुरूआती मैच

By - Jun 05, 2018 07:05 AM
फीफा विश्व कप 2018 : रूस और सऊदी अरब में होगा शुरूआती मैच

फीफा कप ग्रुप-ए : फीफा विश्व कप 2018 में कुल 32 टीमें कप के लिए भिड़ेंगी। इन 32 टीमों को 8 पूलों में बांटा गया है। प्रत्येक पूल में 4 टीमें हैं। सभी टीमें 3-3 मैच खेलेंगी। गु्रप से 2 टीमें नॉकआऊट में जाएंगी। विश्व कप का शुरूआती मैच रूस और सऊदी अरब में होगा। इस पूल में उरुग्वे सबसे मजबूत टीम है। उसके पास लुईस सुआरेज, फेडेरिका वॉलवेड्रे जैसे स्टार खिलाड़ी हैं। पेश है ग्रुप-ए की एक रिपोर्ट-
उरुग्वे : 4-4-2 की सफल शैली के साथ उतरेगी 
उरुग्वे की टीम में युवा और अनुभवी खिलाडिय़ों का बेहतर तालमेल नजर आ रहा है। उरुग्वे के लिए इस बार एडिसन कवानी, फेडेरिको वॉलवेड्रो और खास तौर पर लुईस सुआरेज खास भूमिका निभा सकते हैं। कवानी भी क्वालीफिकेशन राऊंड में 10 गोल करने के बाद से चर्चा में बने हुए हैं। उरुग्वे के कोच ऑस्कर तबारेज 71 साल के हैं। ऐसे में वह अपना पूरा तुजुर्बा टीम की जीत के लिए झोंकेगे। कोपा अमरीका के अलावा 2 बार वल्र्ड कप जीतने वाला उरुग्वे इस विश्व कप में भी अपनी 4-4-2 की शैली के साथ उतर सकता है। कवानी-सुआरेज के अलावा वॉलवेड्रे भी ऐसे प्लेयर हैं जिन पर सभी की नजरें टिकी हुई हैं।
मैच : 15 जून मिस्र, 20 जून सऊदी अरब, 25 जून रूस के साथ
12 विश्व कप खेले 2 खिताब जीते
फीफा रैंकिंग 17
मिस्र : सालेह के सिर पर सारी जिम्मेदारी
28 साल बाद मिस्र की टीम विश्व कप में अपने चैम्पियन फुटबॉलर मोहम्मद सालेह की वजह से क्वालिफाई कर पाई थी। लेकिन टूर्नामैंट शुरू होने से पहले ही सालेह चोट लगने के कारण परेशान हो गए थे। उन्होंने किसी तरह फिटनैस टैस्ट पास किया और राष्ट्रीय टीम में जगह बनाई। बता दें कि पिछले महीने ही सालेह को बैस्ट फुटबॉलर का खिताब मिला था। वहीं, टीम के 45 साल के गोलकीपर एशाम अल हेदारी भी हैरान कर सकते हैं। बता दें कि मिस्र सात बार अफ्रीकी चैम्पियन रह चुका है।
मैच : 15 जून उरुग्वे, 19 जून रूस, 25 जून सऊदी अरब के साथ
2 विश्व कप खेले खिताब कोई नहीं
फीफा रैंकिंग 30
सऊदी अरब : चैलेंजिंग रहेगा टूर्नामैंट
2006 के बाद सऊदी अरब की विश्व कप में वापसी हुई है। हालांकि विश्व कप तक सऊदी अरब का सफर इतना अच्छा नहीं रहा है। क्वालीफाइंग दौर के दौरान ही टीम को कई उतार-चढ़ाव देखने को मिले थे। सऊदी अरब के लोगों की अभी नवाफ अल अबेद, फहद अल मुवल्लाद और ओसामा हवासवी पर निगाहें टिकी हुई हैं। हालांकि बीते कुछ मैचों में यह दिग्गज अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए। बावजूद इसके उनसे धमाके की उम्मीद की जा सकती है।
मैच : 14 जून रूस, 20 जून उरुग्वे, 25 जून मिस्र के साथ
4 विश्व कप खेले  खिताब कोई नहीं
फीफा रैंकिंग 67
रूस : मेजबान होने के नाते खेलेगा
रूस पहली बार यह विश्व कप खेल रहा है क्योंकि वह मेजबान है। लेकिन इसके बावजूद टीम अपने कुछ वरिष्ठ साथियों को बाहर निकालने के कारण विवादों में फंसी हुई है। बार-बार कोच बदलने से टीम की रणनीतियां बदलीं जिससे यूरो 2016 में भी रूस का प्रदर्शन खराब रहा था। वैसे भी फुटबॉल में रूस कभी अच्छा नहीं कर पाया है। अगर रूस लीग मैचों से आगे निकल गया तो यह इसके लिए बड़ी बात होगी। बता दें कि विश्व कप की शुरूआत रूस और सऊदी अरब के मैच से होनी है।
मैच : 14 जून सऊदी अरब, 19 जून मिस्र, 25 जून उरुग्वे के साथ
10 विश्व कप खेले  खिताब कोई नहीं
फीफा रैंकिंग 65