इन मुद्दों को लेकर वित्त मंत्री बैंक प्रमुखों के साथ करेंगे बैठक

By - Jul 05, 2018 09:34 AM
इन मुद्दों को लेकर वित्त मंत्री बैंक प्रमुखों के साथ करेंगे बैठक

वित्त मंत्री पीयूष गोयल आज बैंक प्रमुखों के साथ बैठक करेंगे। बैठक में ‘सशक्त परियोजना’ पर विचार किया जाएगा। परियोजना में बैंकिंग प्रणाली में फंसे कर्ज के समाधान में तेजी लाने के लिये अंतर-कर्जदाता ढांचे के बारे में सुझाव दिया गया है। सूत्रों ने बताया कि बैठक में बैंकिंग क्षेत्र की ‘सशक्त परियोजना’ में सुझाए गए अंतर- ऋणदाता समझौते के ढांचे को औपचारिक रूप दिया जा सकता है। बैठक का आयोजन भारतीय बैंक संघ (आईबीए) ने किया है।
अंतर-ऋणदाता समझौता एक तरह की रूपरेखा होगी जिसके तहत यह समूह बैंकों के फंसे कर्ज के मामलों को देखेगा और उनके समाधान में तेजी लाएगा। ऋणदाता बैंकों के बीच होने वाले इस समझौते में जो रूपरेखा तैयार होगी उसमें लीड बैंक को इसके लिए अधिकृत किया जाएगा कि वह 180 दिन में समाधान योजना का क्रियान्वयन करे।
रूपरेखा ढांचे के मुताबिक आईबीए द्वारा नियुक्त की गई स्वतंत्र विशेषज्ञों की जांच समिति 30 दिन के भीतर वैध प्रक्रिया की पुष्टि करेगी और यदि ऋणदाताओं को कर्ज का 66 प्रतिशत प्राप्त होता है तो वह एनसीएलटी प्रक्रिया के तहत समाधान प्रक्रिया को आगे बढ़ाने की अनुमति देते हैं। एक बार समाधान प्रक्रिया की मंजूरी मिलने के बाद लीड बैंक योजना के क्रियान्वयन के लिए जवाबदेह होगा।