कैराना-नूरपुर उपचुनाव: इन दोनों सीटों पर 28 मई को होंगे मतदान

By - May 15, 2018 09:39 AM
कैराना-नूरपुर उपचुनाव: इन दोनों सीटों पर 28 मई को होंगे मतदान

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में सोमवार को नाम वापसी के अंतिम दिन कैराना लोकसभा सीट पर 12 प्रत्याशी तथा नूरपुर विधानभा सीट के उपचुनाव में 10 उम्मीदवार चुनाव मैदान में रह गए है। निर्वाचन विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार कैराना लोकसभा सीट से 2 प्रत्याशियों ने अपना नामांकन पत्र वापस लेने के बाद अब 12 उम्मीदवार चुनाव मैदान में रह गए हैं जबकि बिजनौर जिले की नुरपुर विधानसभा सीट पर 10 प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे है। इन दोनों सीटों पर 28 मई को मतदान होगा और 31 मई को मतगणना होगी।
उत्तर प्रदेश में गोरखपुर एवं फुलपुर लोकसभा सीटों के उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी की हार के बाद अब लोगों की नजर इन दोनों उपचुनावों पर लगी हुई है। भाजपा ने कैराना लोकसभा उपचुनाव में स्वर्गीय हुकुमसिहं की पुत्री मृगांका सिहं तथा नूरपुर से स्वर्गीय विधायक लोकेन्द्र सिहं की विधवा अवनी सिहं को चुनाव मैदान में उतारा है। हुकुम सिहं के निधन एवं लोकेन्द्र सिंह की सड़क दुर्घटना में मृत्यु होने के बाद यह सीट खाली हुई है।
इस बीच कैराना से राष्ट्रीय लोकदल एवं समाजवादी पार्टी की संयुक्त उम्मीदवार तबस्सुम बेगम तथा नूरपुर से समाजवादी पार्टी के नईमुल हसन को विपक्ष की ओर से उम्मीदवार बनाया गया है। कांग्रेस एवं बहुजन समाज पार्टी ने अपने उम्मीदवार उपचुनाव में नहीं उतार कर विपक्षी प्रत्याशियों को ही समर्थन करने का निर्णय किया है। कैराना से बहुजन समाज पार्टी से पूर्व सांसद तबस्सुम (47) ने बाद में समाजवादी पार्टी में शामिल हो गई थी और जाट बाहुल्य क्षेत्र में जानी मानी हस्ती के रूप में देखी जाती है। तबस्सुम ने नामांकन भरने से पूर्व गत माह राष्ट्रीय लोकदल ज्वांइन कर लिया। कैराना लोकसभा क्षेत्र में करीब 17 लाख मतदाता है जिनमें 3 लाख के करीब मुस्लिम, 4 लाख पिछड़ा वर्ग एवं डेढ लाख के करीब दलित मतदाता शामिल हैं।