कर्नाटक चुनावः कांग्रेस ने उठाए ईवीएम पर सवाल, तो कुछ ऐसा रहा स्वामी का रिएक्शन

By - May 15, 2018 01:00 PM
कर्नाटक चुनावः कांग्रेस ने उठाए ईवीएम पर सवाल, तो कुछ ऐसा रहा स्वामी का रिएक्शन

नई दिल्ली: कर्नाटक में विधानसभा चुनाव परिणाम की तस्वीर तकरीबन साफ होने के साथ ही कांग्रेस महासचिव मोहन प्रकाश ने ईवीएम की विश्वसनीयता पर सवाल खड़े करते हुए कहा है कि जब लोगों को अपने वोट पर सन्देह होने लगेगा तो फिर लोकतंत्र कमजोर होगा। प्रकाश ने यह सवाल भी किया कि जब लगभग सभी पार्टियां ईवीएम पर कभी न कभी सवाल खड़े कर चुकी हैं तो फिर भाजपा और चुनाव आयोग ईवीएम पर ही जोर क्यों दे रहे हैं? उन्होंने कहा कि यह उनकी निजी राय है और हमेशा से ईवीएम को लेकर वह यही राय रखते रहे हैं। कांग्रेस नेता ने बातचीत में कहा,‘‘देश के प्रत्येक राजनीतिक दल ने कभी न कभी ईवीएम की विश्वसनीयता को लेकर सवाल खड़े किए हैं। यहां तक कि भाजपा के शीर्ष नेता लालकृष्ण आडवाणी भी इसको लेकर उच्चतम न्यायालय पहुंचे थे। जब सभी पार्टियां एक राय रखती आ रही हैं तो फिर वर्तमान भाजपा और चुनाव आयोग का जोर ईवीएम पर क्यों है? प्रकाश ने कहा,‘‘अगर लोगों के मन में यह बात आएगी कि हमने वोट दिया और वोट कहां गया तो लोकतंत्र कमजोर होगा।‘‘ उन्होंने कहा,‘‘मेरी शुरू से यह राय रही है कि जब सभी राजनीतिक दलों ने ईवीएम की विश्वसनीयता पर संदेह किया है और लोगों को यह लगता है कि उनका वोट पता नहीं कहां चला गया तो फिर हमें मतपत्र की तरफ लौटना चाहिए।‘‘

यह पूछने पर कि क्या वह कर्नाटक के नतीजों को देखते हुए ऐसा कह रहे हैं तो प्रकाश ने कहा,‘‘मेरी हमेशा से यही राय रही है। कर्नाटक के सन्दर्भ में मैं यही कहूंगा कि जब सारे सर्वे यह कह रहे थे कि मुख्यमंत्री पद के लिए पहली पसंद सिद्धरमैया हैं और सत्ता विरोधी लहर नहीं है तो फिर लोगों को लगेगा कि उन्होंने वोट दिया लेकिन यह क्या हुआ?वहीं जब पत्रकारों ने भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी से ईवीएम से छेड़छाड़ पर सवाल किया तो वे ठहाका मार कर हंस पड़े। बता दें कि कांग्रेस सहित कई राजनीतिक दल ईवीएम पर सवाल उठा चुके हैं। हालांकि जब कांग्रेस ने पंजाब में जीत हासिल की तो उसने इस बारे में कुछ नहीं कहा था।