पीएनबी घोटाला: सीबीआई ने दूसरी चार्जशीट दाखिल की, मेहुल चोकसी को बताया वांटेड

By - May 16, 2018 12:41 PM
पीएनबी घोटाला: सीबीआई ने दूसरी चार्जशीट दाखिल की, मेहुल चोकसी को बताया वांटेड

नई दिल्ली: पंजाब नैशनल बैंक (पी.एन.बी.) में हुए 12,717 करोड़ रुपए के घोटाले में सी.बी.आई. ने बुधवार को अपनी दूसरी चार्जशीट दाखिल की। मुंबई की विशेष सी.बी.आई. अदालत में यह चार्जशीट दायर की गई। सी.बी.आई. ने मेहुल चौकसी केस में यह चार्जशीट दाखिल की है। चार्जशीट में सी.बी.आई. ने अरबपति ज्वेलर्स मेहुल चौकसी को वांटेड बताया गया है। सीबीआई की तरफ से दाखिल की 12000 पन्नों की दूसरी चार्जशीट में मेहुल चौकसी के खिलाफ भारतीय दंड सहिंता की धारा 409, 420 और 120ठ के तहत मामला दर्ज किया गया है। सी.बी.आई. ने इस केस के लिए कुल 50 गवाहों समेत कई दस्तावेजों की लिस्ट बनाई है। चार्जशीट के मुताबिक इस केस में कुल 18 आरोपी हैं, जिनमें से 15 व्यक्ति और 3 फर्म (कंपनी) शामिल हैं।

गौरतलब है कि इससे पहले सोमवार को सी.बी.आई. ने साढ़े चौदह करोड़ रुपए पी.एन.बी. घोटाले में नीरव मोदी सहित कुछ दूसरे लोगों के खिलाफ पहली चार्जशीट दायर की थी। यह चार्जशीट 31 जनवरी को दर्ज पहली एफ.आई.आर. के आधार पर तैयार की गई थी। आपको बता दें कि नीरव मोदी, उनके मामा मेहुल चौकसी और उनसे जुड़ी कंपनियों पर पी.एन.बी. से 12,717 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी का आरोप है। कंपनी की वैबसाइट के अनुसार, उसका कारोबार अमेरिका, यूरोप, पश्चिम एशिया और भारत सहित कई देशों में फैला है। उसने अपनी मौजूदा स्थिति के लिए नकदी और सप्लाइ चेन में दिक्कतों को जिम्मेदार बताया है। अदालत में दाखिल दस्तावेजों के अनुसार कंपनी ने 10 करोड़ डॉलर की आस्तियों व कर्ज का जिक्र किया है। इस बीच घोटाले की वजह से पी.एन.बी. को भारी घाटे का सामना करना पड़ा है, मंगलवार को बैंक ने मार्च तिमाही के लिए अपने नतीजे घोषित कि हैं जिनके मुताबिक मार्च तिमाही में च्छठ को 13,417 करोड़ रुपए का भारी घाटा उठाना पड़ा है। दिसंबर तिमाही के दौरान बैंक को 230.11 करोड़ रुपए और 2016-17 की मार्च तिमाही में 261.90 करोड़ रुपए का फायदा हुआ था।