इन कारणों से मुंबई इंडियंस को राजस्थान रॉयल्स से मिली हार

By - May 14, 2018 08:07 AM
इन कारणों से मुंबई इंडियंस को राजस्थान रॉयल्स से मिली हार

नई दिल्लीः राजस्थान राॅयल्स के खिलाफ आईपीएल टूर्नामेंट के 47वें मैच में मुंबई इंडियंस को हार का सामना करना पड़ा। जोस बटलर ने फिर से शानदार पारी खेलकर राजस्थान को दो ओवर शेष रहते हुए सात विकेट से आसान जीत दिलाकर प्लेआफ में पहुंचने की उम्मीदों को पंख लगाए। राजस्थान रायल्स की यह 12 मैचों में छठी जीत है जिससे उसके 12 अंक हो गए हैं और वह अंकतालिका में मुंबई से आगे पांचवें स्थान पर पहुंच गई है। मुंबई के अब 12 मैचों में दस अंक हैं और उसके लिए प्लेआफ की राह बेहद कांटों भरी बन गई है। जहां एक तरफ जीत के बाद अजिंक्य रहाणे काफी खुश नजर आए तो वहीं दूसरी ओर हार के बाद मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा बेहद निराश दिखे। बता दें कि मुंबई इन चार कारणों से राजस्थान से हारी।
1. रोहित शर्मा का ना चलना
आईपीएल के 11वें सीजन में अभी तक रोहित का बल्ला ज्यादा बड़ी पारी के लिए नहीं बोला। राजस्थान के खिलाफ इस मैच में सूर्यकुमार का विकेट गिरने के बाद अगली ही गेंद पर रोहित उनादकट को कैच दे बैठे। रोहित का इस तरह आउट होना टीम के लिए निराशाजनक है। पहली गेंद पर आउट होने के बाद रोहित खुद काफी निराश हो गए थे और उनकी नाराजगी साफ चेहरे पर नजर आ रही थी। अगर रोहित इस मैच में अच्छी पारी खेल कर बड़ा स्कोर बना लेते तो शायद मुंबई इस मैच को ना हारती।
2. आखिरी 10 ओवरों में गंवाए 6 विकेट
मुंबई ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 10 ओवरों में बिना कोई विकेट खोए 86 रन बनाए, लेकिन 11वें ओवर से लेकर पारी के 20वें ओवर तक मुंबई के 6 विकेट गिर चुके थे और 20 ओवर के बाद स्कोर 168 ही रहा। अगर ईशान किशन, क्रुणाल पांड्या, रोहित शर्मा जैसे अच्छे बल्लेबाजी विकेट को संभालकर खेलते तो स्कोर और ज्यादा हो सकता था।
3. गेंदबाज भी नहीं दिखा पाए कमाल
राजस्थान की पारी के दौरान जसप्रीत बुमराह ने पहले ही ओवर में डी आर्सी शोर्ट को पवेलियन लौटा दिया। फिर उसके बाद रहाणे और बटलर ने 95 रनों की शानदार साझेदारी की। इस साझेदारी को मुंबई के गेंदबाज हार्दिक पांड्या ने 13वें ओवर की पहली गेंद पर जा कर तोड़ा, उस समय राजस्थान को जीत के लिए 67 रनों की जरूरत थी। रहाणे के आउट होने के बाद रन गति में तेजी आई। जब रन और गेंदों के बीच अंतर बढ़ रहा था तब बटलर ने हार्दिक और जसप्रीत बुमराह दोनों पर एक-एक छक्का और चौके जमाकर मुंबई को हतोत्साहित कर दिया। सैमसन ने हार्दिक पर लगातार दो छक्के लगाए जबकि बटलर ने इसी ओवर की आखिरी गेंद पर विजयी छक्का जड़ा। अगर गेंदबाज अच्छी गेंदबाजी करते तो राजस्थान इस मैच को इतनी आसानी से नहीं जीत पाती। बता दें कि राजस्थान ने मुंबई द्वारा दिए गए लक्ष्य को 2 ओवर शेष रहते हासिल कर लिया था।
4. पहली विकेट के बाद कोई साझेदारी नहीं मिली
मुंबई के दोनों ओपनर बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव और ईवन लुईस ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए पहली विकेट के लिए 87 रन जोड़े। सूर्यकुमार के आउट होने के बाद रोहित शर्मा भी अगली ही गेंद पर आउट हो गए। जिसके बाद टीम को कोई अच्छी साझेदारी नहीं मिली औऱ बड़ा स्कोर बनाने में नाकामयाब रही। ईशान किशन (12) भी जल्द पवेलियन लौट गए जिससे डेथ ओवरों की जिम्मेदारी पांड्या बंधुओं पर आ गई हालांकि हार्दिक पांड्या ने 2 छक्कों और 3 चौकों की मदद से 36 रन जरुर बनाए, लेकिन उनके भाई क्रुणाल 3 रन बनाकर आउट हो गए। इस बीच टीम को बाद में कोई भी अच्छी साझेदारी नहीं मिली।