7 घंटे बाद निकली जिंदा गड्डे में दफनाई नवजात बच्ची

By - Jun 13, 2018 09:27 AM
7 घंटे बाद निकली जिंदा गड्डे में दफनाई नवजात बच्ची

ब्राजील में  नवजात बच्ची के साथ अपराध का दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। यहां कैनाराना टाउन  के शिन्गू नैशनल पार्क में रहने वाली कामयाउरा जनजाति के एक परिवार ने अपनी नवजात बच्ची को घर के पीछे ही गड्ढा खोकर जिंदा गाड़ दिया। पुलिस को घटना की गुप्त खबर मिलने पर मौके पर पहुंची। घटना के 7 घंटे बाद पुलिस ने जब गड्ढा खुदवाया, तो बच्ची जिंदा मिली। पुलिस को शक है कि फैमिली ने बच्ची को जान से मारने की कोशिश की। वहीं, फैमिली दफनाते वक्त बच्ची के मरे होने का दावा कर रही है। 
पुलिस ने नैशनल पार्क में दफनाई गई बच्ची को 7 घंटे बाद जिंदा हालत में बाहर निकाला है। बच्ची नेकेड थी और उसके शरीर से एम्बिलकल कॉड तक जुड़ी हुई थी। इसके तुरंत बाद पुलिस ने बच्ची को सांस से संबंधित परेशानियों के चलते अस्पताल में भर्ती कराया। उसे अभी राज्य सरकार की देखभाल में रखा गया है।  मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बच्ची करीब 50 सेंटीमीटर गहरे गड्ढे में मिली। पुलिस ने इस मामले में बच्ची की परदादी को अरेस्ट किया था, लेकिन बाद में छोड़ दिया। उस पर हत्या की कोशिश का आरोप लगाया गया है।
हालांकि, फैमिली का कहना है कि जन्म के समय बच्ची फर्श पर गिर गई थी और उसका सिर सीधा जमीन पर टकराया था। इसके बाद से वो रिस्पॉन्स नहीं कर रही थी, तो हमें लगा बच्ची मर गई है। लेकिन पुलिस को परिवार पर हत्या का शक है। क्योंकि पुलिस ने जब बच्ची को गड्ढे से निकालने के बाद उसकी टीनेज मां और पिता को दिखाया, उन्होंने उसे पहचानने से इंकार कर दिया।  स्टेट प्रॉसीक्यूटर पाउलो रॉबर्टो का कहना है कि हम इस बात की जांच कर रहे हैं कि ये हत्या का मामला है या फिर असल में उन्हें लगा कि बच्ची की मौत हो चुकी है।