बहू ने ससुर को दी भयानक मौत, बच्चे ने खोला राज

By - Jul 11, 2018 07:14 AM
बहू ने ससुर को दी भयानक मौत, बच्चे ने खोला राज

नाहन: वर्तमान में रिश्तों की अहमियत मानों समाप्त होती जा रही है। घर में जहां बेटा बाप की नहीं सुनता तो वहीं एक बहू ससुर की कैसे सुनेगी। ऐसा ही मामला जिला सिरमौर के बनेठी में सामने आया है जहां घर में आए दिन होने वाली कलह के चलते एक बहू ने रात को डंडों से पीट-पीट कर करीब 75 वर्षीय ससुर को मौत के घाट उतार दिया। इस दौरान मृतक का बेटा एवं आरोपी बहू का पति साथ में ही नशे में सोता रहा। हत्या का पता उस समय लगा जब सुबह बेटे ने देखा कि उसके पिता सोकर नहीं उठे।
पुलिस ने महिला को किया गिरफ्तार
जब वह पिता कमरे में गया तो देखा कि उनकी हत्या हो चुकी है जिसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। सूचना मिलने के बाद ए.एस.पी. सिरमौर वीरेंद्र ठाकुर के नेतृत्व में पुलिस टीम मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में ले लिया। बाद में पुलिस ने खुलासा किया कि मृतक की बहू ने उसे डंडों से पीटकर मार डाला है जिसके बाद कार्रवाई करते हुए आरोपी महिला को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। ए.एस.पी. सिरमौर वीरेंद्र ठाकुर ने बताया कि पुलिस को मामले में पता चला है कि उक्त परिवार में कलह थी। इससे पूर्व भी करीब 2 बार आरोपी महिला द्वारा अपने ससुर के साथ गलत व्यवहार किया गया था।
कहासुनी के बाद कर डाली हत्या
महिला का पति निजी क्षेत्र में नौकरी करता है और रात को घर आता है जबकि महिला की सास नहीं है। सोमवार को भी महिला का पति देर रात को नशे की हालत में घर आया और सो गया। इस बीच महिला परमीता की ससुर किशन सिंह के साथ कहासुनी हुई जिसके बाद महिला ने डंडों से ससुर पर हमला कर दिया, जिससे उसकी मौत हो गई। सुबह जब महिला के पति ने देखा कि पिता नहीं उठे हैं तो उनके कमरे में गया, जहां उसे खून से लथपथ उनका शव मिला। ए.एस.पी. ने बताया कि पुलिस ने संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
साढ़े 4 साल के बच्चे ने दिया सच का साथ
कहते हैं कि बच्चे मन के सच्चे होते हैं। इसका उदाहरण उक्त मर्डर मामले में साढ़े 4 साल के वीनित ने दिया। जब पुलिस ने वीनित से पूछा कि यह कैसे हुआ तो बच्चे ने बड़ी मासूमियत से कहा कि ममा ने दद्दू को डंडे से मारा है। हालांकि यदि कोई और होता तो शायद अपनी मां को बचाने के लिए एक पल के लिए झूठ भी बोल देता लेकिन सच में बच्चों में रब बसता है और बच्चे शायद ही कभी झूठ बोलते हों। ए.एस.पी. ने बताया कि वीनित ने बड़ी निडरता के साथ पुलिस को घटना बारे बताया जोकि काबिले तारीफ है।