१० टॉप इंजीनियरिंग कॉलेज,यहां बनाए अपना सफल कॅरियर

By - Jun 15, 2018 11:12 AM
१० टॉप इंजीनियरिंग कॉलेज,यहां बनाए अपना सफल कॅरियर

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (सीबीएसई) द्वारा ज्वाइंट एंट्रेंस एग्जाम (जेईई) के रिजल्ट्स की घोषणा के साथ ही सफल छात्रों के बीच टॉप रैंकिंग संस्थान में खुद के लिए सीट सुरक्षित करने की दौड़ शुरू हो गई है।
छात्र और उनके माता-पिता पूरे देश में विभिन्न इंजीनियरिंग संस्थानों में फॉर्म भरते हैं।जानकारी के आभाव में छात्र और उनके माता-पिता दाखिले के लिए अलग-अलग जगह भटकते हैं। फिर भी उन्हें अच्छी यूनिवर्सिटी और कॉलेज नहीं मिल पाते।
यहां हम आपको देश के टॉप 10 इंजीनियरिंग कॉलेजों की एक सूची दे रहे हैं। ये सूची हाल ही में मानव संसाधन विकास (एमएचआरडी) मंत्रालय द्वारा जारी की गई है।
यह सूची बेहतरीन यूनिवर्सिटी और कॉलेज में दाखिला दिलाने में आपकी मदद कर सकती है। इस सूची को राष्ट्रीय संस्थागत रैंकिंग फ्रेमवर्क (एनआईआरएफ) व्यापक रूप से 5 मानकों के आधार पर इसकी रैंकिंग तैयार करती है।
शिक्षण, शिक्षा और संसाधन
अनुसंधान और व्यावसायिक अभ्यास
ग्रेजुएशन रिजल्ट
आउट रीच और समावेशिता
धारणा
देश के टॉप 10 इंजीनियरिंग कॉलेज
रैंक    संस्थान        स्थान     स्कोर 

1    आईआईटी मद्रास     चेन्नई     88.95
2    आईआईटी बॉम्बे    मुंबई     84.82
3    आईआईटी दिल्ली    नई दिल्ली        82.18
4    आईआईटी खड़गपुर        खड़गपुर     77.78
5    आईआईटी कानपुर    कानपुर         75.24
6    आईआईटी रूड़की    रूड़की    72.57
7    आईआईटी गुवाहटी    गुवाहटी        69.25
8    अन्ना यूनिवर्सिटी    चेन्नई    67.04
9    आईआईटी हैदराबाद        हैदराबाद    60.87
10    इंस्टीट्यूट ऑफ चेन्नई टेक्नोलॉजी    मुंबई    60.63
 को स्टुटगार्ट में चल रहे एटीपी मर्सीडीज कप के दूसरे दौर में अर्जेंटीना के गुइडो पेला से हार का मुंह देखना पड़ा जिससे उन्होंने महान खिलाड़ी रोजर फेडरर से भिड़ंत का मौका गंवा दिया। 
टूर्नामेंट के लिए क्वालीफाई कर शुरूआती दौर में दुनिया के 23 वें नंबर के खिलाड़ी डेनिस शापोवालोव को हराकर उलटफेर करने वाले प्रजनेश को दुनिया के 75 वें नंबर के खिलाड़ी से 6-7, 4-6 से हार का मुंह देखना पड़ा।
अपना पहला एटीपी विश्व टूर टूर्नामेंट खेल रहे भारतीय खिलाड़ी ने पांच में से चार ब्रेक प्वाइंट बचाए लेकिन दो मौकों पर अंक नहीं जुटा सके और एक घंटे 29 मिनट तक चले मुकाबले में हार गए। उन्हें यहां 32 रैंकिंग अंक मिले जिसमें क्वालीफाई करने के 12 अंक भी शामिल हैं। इस प्रयास से उन्होंने 11,210 अंक जुटाए।