लकड़ी के फर्नीचर को खराब होने से बचाने के आसान उपाय

By - Jul 02, 2018 08:52 AM
लकड़ी के फर्नीचर को खराब होने से बचाने के आसान उपाय

लकड़ी का फर्नीचर घर को शोभा बढ़ा देता है लेकिन बारिश के मौसम में लकड़ी के फर्नीचर की खास देखभाल करनी पड़ता है। दरअसल, मानसून में लकड़ी में दीमक लग जाता है, जिससे धीरे-धीरे सारा फर्नीचर खराब होने लगता है। वहीं नमी के चलते लड़की का फर्नीचर फूल जाता है, इससे ड्रॉर खोलने और बंद करने में दिक्कत होती है। इसलिए मानसून के दौरान फर्नीचर के कोनों, उसके निचले और पिछले भागों को महीने में कम से कम एक बार जरूर साफ करना चाहिए। अगर आप भी मानसून में अपने लड़की के फर्नीचर को दीमक या खराब होने से बचाए रखना चाहते है तो आज हम आपको कुछ टिप्स बताएंगे, जिनकी मदद से आप आसानी से अपने लड़की के फर्नीचर को सालो-साल नया बनाकर रख सकते हैं। 
1. लड़की के फर्नीचर को सेफ जगह पर रखें, जहां बारिश की बूंदे उन तक न पहुंच पाएं क्योंकि गीले होने की वजह से फर्नीचर फूल सकता हैं। 
2. घर के खिड़की-दरवाजे लकड़ी के है तो समय-समय पर उन्हें ऑयलिंग करते रहे। ऐसा करने से उनमें किसी तरह का दीमक नहीं लगेगा। 
3. बारिश के मौसम में नमी के कारण भी फर्नीचर फूलने लगता है। नमी को सूखाने के लिए सूखे नीम के पत्तों का इस्तेमाल करें। 
4. मानसून में लड़की के फर्नीचर को हमेशा दीवारों से दूर रखें क्योंकि इससे फर्नीचर पर डैम नही लगेगा। 
5. बरसात के मौसम में अपने फर्नीचर को पॉलिश या पेंट करवाते रहे। इससे फर्नीचर नमी से बचा रहेगा।  
6. लकड़ी का फर्नीचर को फूलने से बचाने के लिए ऑयलिंग या वैक्सिंग करके रखें। आप चाहे तो स्प्रे-ऑन-वैक्स ट्राई कर सकते हैं। 
7. बरसात में फर्श की नमी के कारण फर्नीचर के लेग भी नमी के संपर्क में आ सकता है। उसे रोकने के लिए लेग के नीचे वॉशर लगाएं। 
8. लकड़ी के फर्नीचर को साफ करने के लिए गीले कपड़े के बजाए साफ, सूखे कपड़े का इस्तेमाल करें। 
9. मानसून में घर की मरम्मत करवाने से बचें। दरअसल, बरसात में नमी का स्तर ज्यादा होता है। ऐसे में पेंटिंग या पॉलिशिंग ठीक नहीं है क्योंकि इससे लकड़ी का फर्नीचर खराब हो सकता है। 
10. घर की नमी को सोखने के लिए कपूर या नेप्थलीन बॉल का इस्तेमाल करें। लकड़ी की अलमारी को दीमक या अन्य कीड़ों से बचाने के लिए इन्हें किसी कपड़े में बांधकर रखें। आप चाहे तो नीम की पत्तियों और लौंग का इस्तेमाल भी कर सकते है।