तेज प्रताप ने एक बार फिर जाहिर की अपनी नाराजगी, खुलकर कर बताया...

By - Jun 10, 2018 01:13 PM
तेज प्रताप ने एक बार फिर जाहिर की अपनी नाराजगी, खुलकर कर बताया...

पटना: राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े पुत्र एवं पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव ने लगातार दूसरे दिन आज खुलकर अपनी नाराजगी जाहिर की है. तेज प्रताप यादव ने कहा कि लालू परिवार में झगड़े की सारी खबरें गलत हैं, ऐसा कुछ नहीं है. उन्होंने आगे कहा, तेजस्वी और लालू जी के खिलाफ मेरे पास कुछ नहीं है, लेकिन पार्टी में कुछ वरिष्ठ नेता युवा कार्यकर्ताओं को किनारे कर रहे हैं. साथ ही तेज प्रताप ने बिहार राजद के अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे को निशाने पर लिया है.लालू प्रसाद के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने रविवार को दूसरे दिन भी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि पार्टी के कुछ बड़े लोग हैं जो भाई-भाई को आपस में लड़ाना चाहते हैं, लेकिन ऐसे लोगों का मंसूबा काम नहीं करेगा. उन्होंने कहा कि पार्टी में छात्र राजद के कार्यकर्ताओं की बात को नहीं सुना जाता है, जबकि पार्टी में वही छात्र बूथ पर खड़ा होकर काम करते हैं.

तेज प्रताप ने कहा कि पार्टी के नेता धूप में नहीं जाते हैं, लेकिन कार्यकर्ता पूरी मेहनत के साथ काम करते है. लालू के बड़े बेटे ने कहा कि कौन लोग साजिश कर रहे हैं उनका नाम भी सामने आने लगा तो ऐसे सभी लोगों को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखायेंगे. इससे पहले शनिवार को तेज प्रताप यादव ने अपने छोटे भाई तेजस्वी यादव से मनमुटाव के सवाल पर कहा था कि तेजस्वी मेरा कलेजा का टुकड़ा है. तेज प्रताप ने कहा कि तेजस्वी, मीसा और राबड़ी देवी और मेरा नाम लेकर पार्टी के लोग गलत काम करते हैं. उन्होंने कहा कि मैं पार्टी का सम्मान करता हूं. तेजस्वी को गद्दी दे कर मैं द्वारिका चला जाऊंगा, लेकिन मैं कही भी जाऊंगा राजनीति करूंगा. वहीं, रविवार को तेज प्रताप ने मीडिया से बात करते हुए यह भी कहा था कि हमें असामाजिक तत्वों को पार्टी से निकालना होगा. राजेंद्र पासवान जैसे लोगों ने हमारे लिए मेहनत की है. जब मैंने लालू जी, राबड़ी जी और तेजस्वी को कहा तब उन्हें पद दिया गया. यह सब इतनी देरी से क्यों किया गया.